छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 - wikifeed
NEWS Politics

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018: 12 और 20 नवंबर को होगी वोटिंग

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018

चुनाव आयोग ने 2018 के आखिर में पांच राज्यों में होने जा रहे चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है। 2018 के आखिरी दो महीनों में राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में विधानसभा चुनाव होने हैं। इनमें से छत्तीसगढ़ की बात करें, तो इस राज्य में दो चरणों में मतदान होगा।

Chhattisgarh assembly election - wikifeed

2018 के आखिर में जिन पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं, उनमें से छत्तीसगढ़ इकलौता राज्य है, जहां दो चरणों में चुनाव होंगे। इसकी वजह यह है कि छत्तीसगढ़ में नक्सलियों का खतरा ज़्यादा है, इसलिए वहां ज़्यादा सुरक्षा प्रबंधों की ज़रूरत पड़ेगी।

चुनाव आयोग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक छत्तीसगढ़ में पहले चरण का मतदान 12 नवंबर को होगा और दूसरे चरण का मतदान 20 नवंबर को होगा। 11 दिसंबर को वोटों की गिनती की जाएगी, जिसके बाद नतीजा आएगा।

साल 2000 में अस्तित्व में आए छत्तीसगढ़ में 27 जिले हैं, जिनमें कुल 90 विधानसभा सीटें हैं। एक सीट और है, जिस पर राज्यपाल किसी एंग्लो-इंडियन को मनोनीत कर सकता है। मौजूदा वक्त में यहां बीजेपी सत्ता में है और डॉ. रमन सिंह सूबे की मुख्यमंत्री हैं। यहां पिछला चुनाव नवंबर 2013 में हुआ था और मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल 5 जनवरी 2019 को खत्म हो रहा है।

सीटों की बात करें, तो चुनाव की तारीखों के ऐलान के समय बीजेपी के खाते में 49 सीटें हैं, कांग्रेस के खाते में 39 सीटें हैं और अन्य के खाते में 3 सीटें हैं सियासी हालात की बात करें, तो 2000 में अस्तित्व में आए छत्तीसगढ़ में शुरुआती तीन साल कांग्रेस की सरकार रही, जिसके मुख्यमंत्री अजीत जोगी थे। दिसंबर 2003 से यहां बीजेपी सत्ता में है और डॉ. रमन सिंह हर बार मुख्यमंत्री बने।

शिवराज की तरह रमन भी तीसरी बार मुख्यमंत्री बने हैं, लेकिन टाइमिंग के मामले में वह सीनियर हैं। शिवराज जहां करीब 13 साल से सीएम हैं, वहीं रमन करीब 15 साल से। छत्तीसगढ़ के सियासी हालात भी कमोबेश राजस्थान और मध्य प्रदेश जैसे दिखाई दे रहे हैं। यहां बीजेपी के खिलाफ एंटी-इन्कम्बेंसी का अच्छा इस्तेमाल किया जा सकता है, लेकिन कांग्रेस के पास कोई समाधान नहीं दिख रहा।

सूबे में पार्टी के सबसे बड़े नेता रहे अजीत जोगी अब अपनी नई पार्टी ‘छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस’ बना चुके हैं और मायावती ने कांग्रेस के बजाय जोगी के साथ गठबंधन किया है। गोंडवाना गणतंत्र पार्टी भी उलटफेर करा सकती है। पिछले चुनाव में कांग्रेस कई सीटों पर कम वोटों से हारी थी।

 

 

 

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Add Comment

Click here to post a comment